New Shayari Photo

New Shayari Photo, New Shayari Pic, New Shayari wallpepar, New Shayari Letest, New Shayari true, Top New Shayari , New Shayari Hindi

New Shayari Photo

New Shayari Photo

ऐसे ही होते है आज कल के रिश्ते एक
तदाप्था रहेता है और दुसरो को फिकर भी नहीं होती
aise hi hote hai aaj kal ke risthe ek
tadapta hai rehta hai aur dusro ki fikar bhi nahi hoti

letest-new-shayari

letest-new-shayari

अभी तो बोहुत खुसी मिल रही है उसे झूटे लोगो से
तडपेगा मुझे पाने के लिए के लिए जब मेरे सचे पियार का एहसास होगा
abhi to bohut khusi mil rahi hai use jhute logo se
tadpega mujhe paane ke liye jab mere sache pyar ka ehsaas hoga

new-shayari-on

new-shayari-on

लड़ के पूरी दुनिया से तुम्हे अपना बनाया था
पर तुम वही निकले जो दुनिया ने बताया था

lad ke puri duniya se tumhe apna banaya tha
par tum wahi nikle jo duniya ne bataya tha

new-shayari-wallpeper

new-shayari-wallpeper

ज़िन्दगी बोहुत खुबसूरत होती है सुना था मैंने
जिस दिन तुझे देखा यकीन भी हो गया
zindagi bohut khusurat hoti hai suna tha maine
jis din tujhe dekha yaqeen bhi ho gaya

mast-new-shayari

mast-new-shayari

ज़िन्दगी तेरे इंतज़ार यूँ ही गुजर जाएगी
पर तेरी कमी हमेशा रहा जाएगी
zindagi tere intezar mein yun hi gujar jayegi
par teri kaim hamesha rah jayegi

true-new-shayari

true-new-shayari

तेरी यादें ही इबादत है पेरी फिर
क्यूँ कहेते है हो दुआओं में याद रखना
teri yaadein hi ibadat hai meri phir
kyun kahete ho duaon men yaad rakhna

new-shayari-image

new-shayari-image

लकी होते है वो लोग
जिनके पार्टनर मुश्किल हालातों में
भी उस का साथ नहीं छोड़ ते
lucky hote hai wo log jinke partner mushkil
lahaton mein bhi unka saath nahi chor te

new-shayari-in-hindi

new-shayari-in-hindi

साथ तेरे ही चलना है मुझे
ज़माना चाहे कुछ भी कहे
saath tera hi chalna hai mujhe
zamana chahe kuch bhi kahe

mast-shayari-best

mast-shayari-best

काश तू ए और कहे बस बहुत हु गया
अब नहीं रहा जाता तेरे बिन
kaas tu aye aur kahe bus buhut ho gya
ab nahi raha jata tere bin

 

New-Shayari-on

New-Shayari-on

आग लगाने वालो को कहाँ खबर है
रुख हवाओं ने बदला तो खाख वो भी होंगे

aag lagane walo ko kahan khabar hai
rukh hawaon ne badla to khaakh wo bhi hungge